प्रकाश आंबेडकर ने छोड़ी INDIA, कांग्रेस भी ठाकरे सेना से नाराज

0
733
प्रकाश
महाराष्ट्र के विपक्षी नेता प्रकाश आम्बेडकर, बालासाहब थोराट, संजय राउत और शरद पवार.

महाविकास अघाड़ी के अंदर ठाकरे सेना के रवैये और सीट शेयरिंग विवाद को लेकर शरद पवार भी परेशान

*विदर्भ आपला-
मुंबई :
महाराष्ट्र में लोकसभा चुनावों को लेकर महाविकास अघाड़ी के अंदर सीट शेयरिंग का मुद्दा उलझता जा रहा है.  चुनाव से पहले महाविकास अघाड़ी दल और INDIA गठबंधन को प्रकाश आंबेडकर की पार्टी वंचित बहुजन अघाड़ी ने अलविदा कह दिया. कांग्रेस भी ठाकरे सेना के रवैये से नाराज और परेशान है. सांगली और मुंबई सेट को लेकर कांग्रेस और ठाकरे सेना के बीच ठन गई है. ठाकरे सेना ने इन दोनों सीटों पर बिना कांग्रेस से बातचीत के अपने उम्मीदवार उतार दिए हैं.

महाविकास आघाड़ी में अभिभावक की भूमिका में एनसीपी प्रमुख शरद पवार भी परेशान हैं. उनकी कोई नहीं सुन रहा. महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव के लिए सीट बंटवारे को लेकर कांग्रेस और उद्धव गुट की शिवसेना के नेताओं के बीच जुबानी जंग से शरद पवार भी परेशान बताए जा रहे हैं.

सूत्रों के मुताबिक बुधवार को एनसीपी के पार्लियामेंट्री बोर्ड की बैठक में शरद पवार ने इस मुद्दे पर भी चर्चा की. बैठक में शरद पवार ने कहा कि कांग्रेस और शिवसेना(UBT) को गठबंधन धर्म का पालन करना चाहिए. बिना एक-दूसरे से बातचीत किए इस तरह से सीटों का ऐलान नहीं करना चाहिए था.

इधर गठबंधन तोड़ने के बाद अब प्रकाश आंबेडकर ने ट्वीट के जरिए शिवसेना (उद्धव ठाकरे गुट) के सांसद संजय राउत पर हमला बोला है. उन्होंने संजय राउत पर पीठ में छुरा घोपने का भी आरोप लगाया. इसके अलावा उन्होंने ट्वीट में संजय राउत से कई सवाल भी पूछे हैं.

प्रकाश आंबेडकर का ट्वीट –

<blockquote class=”twitter-tweet”><p lang=”hi” dir=”ltr”>संजय, कितना झूठ बोलोगे!? <br><br>अगर आपके और हमारे विचार एक हैं तो हमें बुलाते क्यों नहीं हैं मीटिंग में? <br><br>6 मार्च की फोर सीजन्स होटल मैं हुई बैठक के बाद आपने हमारे किसी प्रतिनिधि को आमंत्रित क्यों नहीं किया?<br><br>आज भी आप वंचित को आमंत्रित किए बिना क्यों बैठक कर रहे है?<br><br>आपने तो सहयोगी… <a href=”https://t.co/EMbHh6VFME”>pic.twitter.com/EMbHh6VFME</a></p>&mdash; Prakash Ambedkar (@Prksh_Ambedkar) <a href=”https://twitter.com/Prksh_Ambedkar/status/1773271049079030211?ref_src=twsrc%5Etfw”>March 28, 2024</a></blockquote> <script async src=”https://platform.twitter.com/widgets.js” charset=”utf-8″></script>

प्रकाश आंबेडकर की पार्टी वंचित बहुजन अघाड़ी पहले महाविकास अघाड़ी दल और INDIA गठबंधन के साथ गठबंधन में थी. मगर महाविकास अघाड़ी दल के साथ सीट शेयरिंग पर बात नहीं बनने के बाद प्रकाश आबेंडकर ने गठबंधन से दूरी बना ली और लोकसभा के 9 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का निर्णय लिया.

वंचित बहुजन अघाड़ी के प्रमुख प्रकाश आंबेडकर ने ट्वीट की शुरुआत- ‘संजय, कितना झूठ बोलोगे?’ से किया. इसके बाद उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि, ‘अगर आपके और हमारे विचार एक हैं तो हमें मीटिंग में क्यों नहीं बुलाते हैं? 6 मार्च की फोर सीजन्स होटल में हुई बैठक के बाद आपने हमारे किसी प्रतिनिधि को आमंत्रित क्यों नहीं किया? आज भी आप वंचित को आमंत्रित किए बिना बैठक क्यों कर रहे हैं?’

संजय राउत पर लगाया गंभीर आरोप

प्रकाश आंबेडकर ने अपने ट्वीट में संजय राउत पर गंभीर आरोप भी लगाया. उन्होंने लिखा, आपने तो सहयोगी होकर पीठ में छुरा घोंपने वाला काम किया है. हमें पता है आपने सिल्वर ओक्स में हुई मीटिंग में क्या रवैया लिया था. क्या ये बात सच नहीं है कि आपने हमारे खिलाफ अकोला में कैंडिडेट रखने की बात रखी? ये कैसा रिश्ता बना रहे हैं आप? एक तरफ गठबंधन का भ्रम दिखा रहे हैं और दूसरी तरफ हमें गिराने की साजिश कर रहे हैं.

उधर कांग्रेस ने उद्धव ठाकरे की सेना को गठबंधन धर्म का पालन करने की नसीहत दी है. कांग्रेस नेता बालासाहेब थोराट ने कहा कि उद्धव ठाकरे सेना (UBT) गठबंधन धर्म का पालन करे और सांगली एवं मुंबई की सीट कांग्रेस को दे.

सांगली और मुंबई सीट पर ठाकरे सेना ने उतारे उम्मीदवार

बालासाहेब थोराट ने कहा कि इंडिया गठबंधन में सभी की संयुक्त जिम्मेदारी है कि वह एक दूसरे को साथ दें. शिवसेना (UBT) को हमें सांगली की सीट, मुंबई की सीट देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि 45 सीटों का विवाद हल हो चुका है. सिर्फ तीन जगहों पर थोड़ी बहुत समस्या है. बातचीत के जरिए ये मसला हल हो जाना चाहिए. वहीं उ्नहोंने कहा कि कांग्रेस आलाकमान को हमने जानकारी दे दी है. जो जो यहां होता है उसकी जानकारी हम देते हैं.

ठाकरे सेना सांगली सीट छोड़ने को तैयार नहीं

इससे पहले शिवसेना (यूबीटी) नेता संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी महाराष्ट्र की सांगली लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने संबंधी फैसले पर कायम है. उन्होंने कहा कि किसी को भी ऐसा कुछ नहीं करना चाहिए जिससे सीधे तौर पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को मदद मिले.

उनकी पार्टी द्वारा सांगली सीट और मुंबई से कुछ उम्मीदवारों सहित 17 उम्मीदवारों की पहली सूची की बुधवार को घोषणा के बाद राउत कांग्रेस की नाराजगी के बारे में पूछे गये सवालों का जवाब दे रहे थे. उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना (यूबीटी), कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरद पवार) महाराष्ट्र में विपक्षी गठबंधन महा विकास आघाडी (एमवीए) में शामिल हैं.

राउत ने कहा, “कांग्रेस को देश का नेतृत्व करना है और हम उसके प्रयास में पार्टी का समर्थन करते हैं. क्या कांग्रेस सिर्फ एक सीट (सांगली) के लिए भाजपा के खिलाफ लड़ाई छोड़ देगी?” उन्होंने कहा कि यदि विपक्षी गठबंधन एक इकाई के रूप में एकजुट रहता है, तो एमवीए सांगली सीट आसानी से जीत सकता है.

शिवसेना (यूबीटी) ने सांगली से पहलवान चंद्रहार पाटिल को उम्मीदवार बनाया है. राउत ने कहा, “यदि किसी का भाजपा को परोक्ष रूप से मदद करने का कोई और इरादा है तो हम ऐसा नहीं होने देंगे.”

कांग्रेस नेताओं के अनुसार पार्टी सांगली, मुंबई दक्षिण मध्य और मुंबई उत्तर पश्चिम सीटों से चुनाव लड़ने की इच्छुक है. लेकिन इन दोनों सीट शिवसेना (यूबीटी) द्वारा जारी सूची में शामिल हैं.  महाराष्ट्र की 48 सीट के लिए लोकसभा चुनाव 19 अप्रैल से 20 मई के बीच पांच चरणों में होंगे और मतगणना चार जून को होगी.

NO COMMENTS