टीवी चैनल चुनने के लिए ट्राई ने 31 जनवरी तक की तिथि बढ़ाई

0
569
ट्राई

नए टैरिफ सिस्टम में टीवी चैनल ग्राहकों को किसी किस्म की राहत नहीं

नई दिल्ली : केबल और डीटूएच टीवी में नया टैरिफ सिस्टम लागू करने के टेलिकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी (ट्राई) के आदेश में तब्दिली आई है. ट्राई ने सभी मल्टि सर्विस ऑपरेटर्स और लोकल केबल ऑपरेटर्स को पहले 29 दिसंबर से नया टैरिफ सिस्टम लागू करने का आदेश दिया था, लेकिन अब ट्राई ने कहा है कि ग्राहक 31 जनवरी तक अपनी पसंद के चैनल चुन सकते हैं. हालांकि ट्राई ने नया टैरिफ सिस्टम लागू करने में किसी प्रकार की राहत नहीं दी है.

इधर केबल ऑपरेटरों ने गुरुवार, 27 दिसंबर और शुक्रवार 28 दिसंबर को रात्रि 7 बजे से 10 बजे तक टीवी प्रसारण बंद कर “ब्लैकआउट” नए टैरिफ सिस्टम का विरोध किया है. ग्राहकों पर इस नए टैरिफ सिस्टम से अतिरिक्त मासिक बोझ बढ़ने की आशंका व्यक्त की जा रही है. फिलहाल केबल ऑपरेटर छोटे शहरों में 200 से 250 रुपए प्रति माह में लगभग सभी टीवी चैनल अपने ग्राहकों को दिखा रहे हैं.

ट्राई के सचिव एस के गुप्ता ने एक समाचार एजेंसी को बताया कि आज (गुरुवार) को ब्रॉडकास्टर्स, डीटीएच ऑपरेटरों और एमएसओ (मल्टी-सिस्टम ऑपरेटरों) के अनुरोध पर नया टैरिफ सिस्टम लागू करने की तिथि बढ़ा दी है. ताकि ग्राहकों को कुछ और समय मिल जाए और वे अपने हिसाब से चैनल चुन सकें, जिससे आगे उन्हें परेशानी न हो.’

उन्होंने कहा कि इस नए सिस्टम के तहत उपभोक्ताओं को चैनल चुनने की आजादी होगी और वे उन्हीं चैनलों के लिए भुगतान करेंगे, जिन्हें वे देखना चाहते हैं. ट्राई के अनुसार, इलेक्ट्रॉनिक प्रोग्राम गाइड के जरिए टीवी स्क्रीन पर हर चैनल की अधिकतम कीमत लिखी होगी. कोई भी डिस्ट्रीब्यूटर ब्रॉडकास्टर की ओर से तय कीमत से अधिक नहीं ले सकता है.

नेटवर्क कपैसिटी फीस के रूप में ग्राहकों को हर महीने 100 चैनलों के लिए अधिकतम 130 रुपए देना होगा. यदि ग्राहक 100 से अधिक चैनल देखते हैं तो (हालांकि ऐसे ग्राहकों की संख्या महज 10-15 फीसदी है) अगले 25 चैनलों के लिए 20 रुपए अतिरक्त देने होंगे. इसके अलावा ग्राहक जो पे चैनल्स चुनेंगे उनकी तय कीमतें जुड़ जाएंगी. ट्राई की ओर से चैनलों की प्राइस रेंज 1 से 19 रुपए के बीच तय है.

NO COMMENTS