नक्सलियों से संबंध मामले में नजरबंद पांच लोगों पर सुको में सुनवाई आज

0
41

नई दिल्ली : भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में गिरफ्तार किए गए पांच सामाजिक कार्यकर्ताओं को सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर पांचों सामाजिक कार्यकर्ताओं को उनके घर में नजरबंद रखा गया है. इस मामले में पर महाराष्ट्र पुलिस अपना पक्ष सुप्रीम कोर्ट में रख चुकी है. आज इस मामले की सुनवाई होनी है.

महाराष्ट्र पुलिस का हलफनामा सुप्रीम कोर्ट में दाखिल
पिछले सप्ताह गुरुवार को हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र पुलिस को फटकार लगाई थी. हालांकि उनके घर में नजरबंदी को लेकर बहस अभी जारी रही और अगली सुनवाई आज होगी. महाराष्ट्र पुलिस ने एक हलफनामा सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया. जिसमें कहा गया है कि ‘इन कार्यकर्ताओं के विरुद्ध ऐसे सबूत हैं, जिनसे पता चलता है कि इनका संबंध प्रतिबंधित माओवादी (नक्सली) संगठन के साथ था.’

सुप्रीम कोर्ट ने लगाई थी फटकार, टाली थी सुनवाई
सुप्रीम कोर्ट में पिछले 6 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्‍या की साजिश और भीमा कोरोगांव हिंसा केस की सुनवाई करने का फैसला फिलहाल के लिए टाल दिया था. कोर्ट ने कहा कि पुलिस में प्रेस में साक्ष्य दिखाकर सुप्रीम कोर्ट को गलत साबित करने की कोशिश न करे. कोर्ट ने सरकारी वकील से कहा, ‘पुलिस को ऐहतियात बरतना चाहिए. हम इस मामले में बेहद गंभीर हैं.’

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY