विश्वस्तरीय बनेगा नागपुर रेलवे स्टेशन, अजनी-इतवारी का भी होगा उद्धार

0
4015

नागपुर : वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा पेश किए गए वार्षिक बजट के अनुसार आगामी वित्त वर्ष में देश के जिन 600 प्रमुख स्टेशनों का विकास होना है, उनमें नागपुर रेलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय बनाने के साथ उपनगर इतवारी और अजनी के स्टेशनों का विकास भी शामिल है.

अजनी स्टेशन पर मल्टी मॉडेल इंटिग्रेटेड हब बनाने के लिए निधि मिलने की संभावना है. नागपुर और अजनी के अलावा वर्धा व गोंदिया स्टेशनों पर स्वचलित सीढ़ी (एस्केलेटर), सीसीटीवी कैमरों के लिए भी निधि मिलना संभव है. इनके साथ ही माजरी, गोधनी और खापरी जैसे छोटे स्टेशनों को भी आदर्श स्टेशन बनाने के लिए भी आवश्यक धन प्राप्त होने की संभावना रेलवे सूत्रों द्वारा व्यक्त की जा रही है.

इसके साथ ही इतवारी-छिंदवाड़ा, इतवारी-नागभीड़ ब्रॉडगेज, वडसा-देसाईगंज ब्रॉडगेज प्रकल्प के अलावा नागपुर-वर्धा थर्ड और फोर्थ लाईन के लिए भी पर्याप्त निधि मिलने की संभावना भी बलवती हो गई है.

लेकिन, “पिंकबुक” के दर्शन नहीं कराए रेल विभाग ने

वैसे इन प्रकल्पों के लिए रेल विभाग द्वारा अभी तक आधिकारिक रूप से “पिंकबुक” के दर्शन नहीं कराए गए हैं. पिंकबुक रेल विभाग का अधिकारिक घोषणा का माध्यम है, जिसमें बजट प्रस्तुति के कुछ ही घंटों बाद रेल मंडलों से संबंधित योजनाओं की मंजूरी की जानकारी रेल विभाग दे देता है. इसे इंटरनेट पर अपलोड कर दिया जाता है. किन्तु आज शुक्रवार की रात तक नागपुर अथवा विदर्भ के स्टेशनों की भावी से संबंधित ‘पिंकबुक’ अपलोड नहीं की गई है.

5 फरवरी तक मिल जाएगी पिंकबुक

वैसे रेलवे अधिकारियों ने बताया है की आगामी 5 फरवरी तक यह ‘पिंकबुक’ अपलोड कर दी जाएगी. उसके बाद नागपुर और विदर्भ के स्टेशनों के लिए मध्य रेलवे और दक्षिण-पूर्व-मध्य रेलवे को नई रेल योजनाओं के लिए निधि भी प्राप्त हो जाएगी.

दुरंतो, विदर्भ, सेवाग्राम में लगेंगे सीसीटीवी कैमरे

सूत्रों ने बताया कि बजट घोषणा के अनुसार नागपुर-मुंबई दुरंतो एक्स्प्रेस, विदर्भ एक्स्प्रेस, सेवाग्राम एक्स्प्रेस सहित नागपुर और विदर्भ से चलने वाली सभी ट्रेनों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए भी धन उपलब्ध हो जाएंगे. इससे इन ट्रेनों से यात्रा करने वाले यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित हो सकेगी.

NO COMMENTS