चचेरे भाई पर रेप का आरोप : चिराग भी आए लपेटे में

0
333
चचेरे भाई
25 अक्तू. 2019 का फोटो, जब स्व. रामविलास पासवान की उपस्थिति में चचरे भाई प्रिंस राज को चिराग ने बिहार प्रदेश लोजपा का अध्यक्ष घोषित कर दोनों ने एक दूसरे का मुंह मीठा कराया था. 

*सीमा सिन्हा-
पटना :
लोक जनशक्ति पार्टी (पारस गुट) के नेता और बिहार के समस्तीपुर सीट से सांसद प्रिंस राज पासवान, हालांकि अब अपने चचेरे भाई चिराग पासवान के साथ नहीं हैं, लेकिन उन पर लगे रेप के आरोप में सांसद चिराग पासवान भी दोषी बताए गए हैं. लेकिन इससे प्रिंस राज की मुश्किलें कम नहीं हुई हैं.

दिल्ली की एक अदालत के निर्देश पर पुलिस ने 9 सितंबर को प्राथमिकी दर्ज की. प्रिंस राज लोजपाा के उन 5 सांसदों में एक हैं, जिन्होंने इस साल जून में चिराग पासवान के नेतृत्व के खिलाफ पार्टी में बगावत की थी और पारस गुट में जा मिले थे.

चिराग पासवान ने दिया बयान
दिल्ली की एक युवती के साथ हुए रेप केस में फसे प्रिंस राज को लेकर उनके बड़े भाई चिराग पासवान ने बयान दिया है. दरअसल इस केस में चिराग पासवान का भी नाम सामने आया है, जिसको लेकर चिराग पासवान ने सफाई दी है. चिराग ने कहा कि मेरा नाम एफआईआर में है, क्योंकि उसमें लिखा है कि मुझे इस मामले की जानकारी थी और मैंने यह बात मानी भी है कि वह घटना मेरी जानकारी में थी. जमुई के सांसद ने कहा कि हमने इस मामले की जानकारी मिलने के बाद उस वक्त भी पुलिस को जाने के लिए कहा था.

प्रिंस के बड़े भाई चिराग ने कहा कि इस कांड में जो भी कोई दोषी हो, उसको सजा मिलनी चाहिए. अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, एफआईआर में लोजपा नेता चिराग पासवान का भी नाम आया है. महिला का आरोप है कि शिकायत मिलने के बावजूद अपने चचेरे भाई प्रिंस के खिलाफ कार्रवाई में पासवान ने कुछ नहीं किया.

बता दें कि युवती, जो अपने को लोजपा (लोक जनशक्ति पार्टी) का कार्यकर्ता बताती है, तीन महीने पहले ही उसने दिल्ली पुलिस को प्रिंस राज पासवान के खिलाफ लिखित शिकायत दी थी, लेकिन दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया था. लेकिन अब दिल्ली की एक अदालत के आदेश पर पुलिस ने उनके खिलाफ एक संगीन आपराधिक मामला दर्ज किया है. 

कनॉट प्लेस पुलिस स्टेशन में तीन महीने पहले की गई शिकायत पर राज के खिलाफ बलात्कार, आपराधिक साजिश रचने और साक्ष्य मिटाने जैसे आरोपों में आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की गई है.

प्रिंस ने भी दर्ज कराया है मामला
प्रिंस राज ने भी इसी साल फरवरी महीने में युवती के खिलाफ ब्लैकमेलिंग और एक्सटॉर्शन का मामला दर्ज कराया था. बता दें कि प्रिंस राज लोजपा के संस्थापक अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के छोटे भाई दिवंगत रामचंद्र पासवान के बेटे हैं. लोजपा (चिराग) गुट के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के चचेरे भाई भी हैं. इसके साथ ही मोदी मंत्रिमंडल में हाल ही में शामिल पशुपति कुमार पारस के भतीजे भी हैं.

NO COMMENTS