कोरोना वायरस : दहशत के साए में मायानगरी, सहमा हुआ है बॉलीवुड

0
1548
कोरोना वायरस

‘रघुपति राघव राजाराम’ के साथ छोटे तो छोटे, बड़े भी बच नहीं पा रहे

*जीवंत के. शरण-
रक्तबीज
बनी कोरोना महामारी किसी को भी बख्शने को तैयार नहीं है. चाहे राम जपो, या रावण, यह वायरस हर किसी को चपेट में लेने को तैयार है. महानगरी मुंबई की मायानगरी पर भी यह तांडव करने से बाज नहीं आया है. ‘रघुपति राघव राजाराम’ (RRR) भी बच नहीं पाए. इन पर भी कोरोना वायरस कोविड-19 का साया छाया है. विशाल बजट से बन रही इस फिल्म में मुख्य किरदार अजय देवगन, आलिया भट्ट, राम चरण और जे. एनटीआर हैं. फिल्म के पर्दे पर अगले साल फरवरी में आने की खबर है. इसके साथ खबर यह भी है कि RRR (‘रघुपति राघव राजाराम’) के निर्माता डीवीवी दन्नया दो दिन पहले कोरोना पोजिटिव होने के कारण हैदराबाद के अपने निवास में आइसोलेट हो गए हैं. इससे पूर्व RRR के निर्देशक एसएस राजामौली और उनका परिवार भी कोरोना के चपेट में आ गया था.

कोरोना वायरस
कोरोना की पहली शिकार बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर और बन रही फिल्म ‘RRR रघुपति राघव राजाराम’ कोरोना से बच निकले के निर्देशक एसएस राजामौली. 

अभिनेता संजय दत्त तो भाग्य से नेगेटिव निकले, लेकिन सांस की तकलीफ के साथ उन्हें भी मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती होना पड़ गया. तीन दिन के बाद हालांकि उन्हें छुट्टी तो मिल गई. लेकिन इस महामारी के दौर में पूरी मायानगरी और देश भर के उनके प्रशंसकों के माथे पर चिंता की लकीरें तो खिंच ही गई थी.
कोरोना वायरस
सहमा हुआ है बॉलीवुड
विकराल बनते जा रहे कोरोना वायरस के कारण मनोरंजन परोसने वाले मायानगरी के छोटे तो छोटे बड़े पर्दे के कलाकार भी पांच महीने बाद भी खुलकर काम नहीं कर पा रहे हैं. हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन की गाइड लाइन पर चल कर छोटा पर्दा गुलजार होने की राह पर चल पड़ा है. लेकिन बाॅलीवुड अब भी सहमा हुआ है. दरअसल कोरोना महामारी ने बिना किसी भेदभाव के अनेक कलाकारों का शिकार करना शुरू कर दिया है. अभी पिछले सप्ताह ही मशहूर एक्टर सतीश शाह मुंबई के लीलावती अस्पताल से कोरोना को मात कर घर लौटे हैं.

केंद्र और महाराष्ट्र सरकार के लाॅकडाउन में शर्तो के साथ छूट मिलने के बाद कुछ स्टूडियो में हलचल शुरू हुई. लेकिन अमिताभ बच्चन परिवार के (जया बच्चन को छोड़कर) सदस्यों के संक्रमित होने के बाद फिर फिल्म निर्माण की गति मंद पर गई. बच्चन परिवार भी स्वस्थ होकर घर लौट गया है. कोरोना वायरस तमाम कोशिशों के बावजूद निरंतर अपना पैर पसार रहा है. माॅडल और अदाकारा नताशा सूरी भी कोरोना के चपेट में आ गई हैं. फिलहाल वो होमक्वारंटीन हैं. नताशा की बिपाशा बसु और करण सिंह ग्रोवर के साथ की फिल्म ‘डेंजरस’ रिलीज के लिए तैयार है. फिल्म का प्रमोशन कल से आरंभ हुआ है, लेकिन संक्रमित होने के कारण नताशा अब इसमें शामिल नहीं हो पाएगी.

मनोरंजन जगत के अनेक कलाकार कोरोना के शिकार हो चुके हैं. इस वायरस ने देश में तो अपना पहला शिकार गायिका कनिका कपूर को बनाया था. कनिका कुछ विवाद और लंबी चिकित्सा प्रक्रिया से सामना करने के बाद ठीक हुई.

बाॅलीवुड के मशहूर संगीतकार साजिद-वाजिद के वाजिद खान को एक जुलाई को युवावस्था में ही प्राण त्यागना पड़ा. वे कोरोना पोजिटिव होने के बाद अस्पताल में भर्ती हुए थे. उन्हें किडनी की भी समस्या थी. बेहतरीन चिकित्सा सेवा के बावजूद संगीतकार भाइयों की यह जोड़ी टूट ही गई. मिलनसार और हंसमुख वाजिद का यूं दुनिया छोड़ जाने का सदमे से परिवार और सिने जगत के लिए निकलना आसान नहीं होगा.

चौहत्तर वर्षीय किरण कुमार अपनी खलनायकी के तेवर के बावजूद उन्हें 19 मई को कोरोना ने शिकार बनाने का प्रयास किया. रिपोर्ट पोजिटिव होने के बाद उन्होंने घर में ही क्वारंटाइन कर लिया. पुख्ता इलाज के बाद उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई. इससे पहले ‘राॅकऑन-2’ के कलाकार पूरब कोहली, जो फिलहाल लंदन में हैं, पत्नी और दो बच्चों के साथ अप्रैल में ही कोरोना संक्रमित हो गए थे. इलाज के बाद सभी ठीक भी हो गए. उसी दरम्यान निर्माता करीम मोरानी और उनकी दोनों बेटियां जोआ मोरानी और शाजिया मोरानी भी कोरोना पोजिटिव हो गए थे. मुंबई में ही इलाज के बाद तीनों स्वस्थ हो पाए.

रोकथाम की तमाम कोशिशों के बावजूद अब भी बाॅलीवुड के सेलिब्रिटी कोरोना के चंगुल में आ ही रहे हैं. अनुपम खेर के भाई राजू खेर और उनकी माँ भी संक्रमण की पीड़ा झेल चुकी हैं. टीवी कलाकार ‘कसौटी जिंदगी की’ के पार्थ समथान के संक्रमित होने के कारण सीरियल का शूटिंग रूक गया था. अब वे ठीक हैं और सीरियल की नई कड़ी भी दर्शक देख रहे हैं.

छोटा पर्दा गुलजार होने की राह पर
धारावाहिक ‘इश्कबाज’ की श्रेनु पारिख भी कोविड-19 की शिकार हो गई थी. अब वे ठीक हैं और अगले शो ‘बढ़ो बहू’ में बहू के किरदार को लेकर काफी उत्साहित हैं. इससे पहले अदिति गुप्ता भी संक्रमित हो चुकी हैं. उधर एक और छोटे पर्दे का बड़ा चेहरा आशीष राय अब भी आईसीयू में भर्ती हैं. ससुराल सिमर का, यस बॅास, मेरे अंगने में, कुछ रंग प्यार के ऐसे भी, बनेगी अपनी बात, बुरे भी हम भले भी हम से चर्चित इस वरिष्ठ कलाकार की हालत क्रिटिकल है. दर्शक इन्हें फिल्म सुभाष चन्द्र बोस, होम डिलिवरी और राजा नटवरलाल में भी देख चुके हैं. लेकिन काम बंद होने और संक्रमण तथा कुछ अन्य बीमारी के कारण उनकी आर्थिक स्थिति दयनीय हो गई है.

यह सही है कि कोरोना वायरस राजा-रंक, जाति और धर्म नहीं देखता. लेकिन यह भी सही है कि धनवान कलाकारों को पैसा और पहुंच के कारण सारी सुविधाएं सहज ही मिल जाती है. संक्रमित होने के बाद उनके घर वापस होने की संभावना ज्यादा होती है. दूसरी तरफ इंडस्ट्री के कुछ सह कलाकार तकनीशियन, लाइटमैन जैसे लोगों को पोजिटिव होने के बाद बीमारी के साथ आर्थिक तंगी से भी सामना करना पड़ रहा है.

NO COMMENTS