सुशांत केस : आदित्य ठाकरे आए सामने, जताई नाराजगी

0
2805
आदित्य

कहा- विपक्षी दल कर रहे घटिया राजनीति, साजिश

मुंबई : महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के पुत्र एवं राज्य के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में पहली बार सामने आकर विपक्षी दलों के आरोपों पर नाराजगी व्यक्त की है. आदित्य ने कहा, सुशांत सिंह राजपूत की मौत से उनका कोई संबंध नहीं है. इस मामले को लेकर उनपर जो बेवजह आरोप लगाये जा रहे हैं, वे सब बेबुनियाद हैं.

आदित्य ठाकरे ने इस बात पर नाराजगी जताई कि इस घटनाक्रम पर विपक्षी दल बेहद निचले स्तर की घटिया राजनीति कर रहे हैं. इस बात पर इतना सब होने के बाद ठाकरे परिवार खामोश नहीं बैठेगा. उन्होंने कहा, ‘अगर किसी आरोप को लेकर किसी के पास सबूत हों तो उन्हे फौरन पुलिस को सौंपा जाना चाहिए, पुलिस गंभीरता से मामले की जांच कर रही है.’


मराठी में ट्विट कर दिया बयान
राज्य के पर्यावरण मंत्री ने मराठी में ट्विट कर एक बयान जारी किया. उन्होंने ये कहा कि सोशल मीडिया पर चौबीसों घंटे जो कुछ उड़ाया जा रहा है, वह सब बेबुनियाद हैं. इस केस को लेकर दौरान वायरल हो रहीं तमाम थ्योरी पूरी तरह गलत और बकवास है, जिस पर विपक्ष उनके परिवार पर कीचड़ उछालने के साथ घटिया राजनीति कर रहा है. उन्होंने कहा कि एक भी आरोप या साजिश की थ्योरी का कोई आधार नहीं है और ये उनका करियर प्रभावित करने की साजिश हो सकती है.
आदित्य
सुशांत का मर्डर हुआ, पूर्व मैनेजर के पोस्‍टमार्टम में हुई 3 दिन की देरी : राणे
भाजपा सांसद नारायण राणे ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में पुलिस द्वारा प्राथमिकी दर्ज करने में ‘50 दिन से अधिक का विलंब’ करने पर मंगलवार को सवाल उठाया. साथ ही, उन्होंने दिवंगत अभिनेता की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत की भी जांच कराने की मांग की.

नारायण राणे ने कहा, ‘सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या नहीं की है. उनकी हत्या हुई है. महाराष्ट्र सरकार किसी को बचाने की कोशिश कर रही है. सरकार केस पर ध्यान नहीं दे रही.’

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सालियान की मौत आठ जून को हुई थी लेकिन उनका पोस्टमार्टम 11 जून को करवाया गया, जो हैरान करने वाला है.

NO COMMENTS