फिल्म ‘शिकारा’ : रिलीज पर अदालती पेंच की आशंका

0
78
कश्मीरी

*जीवंत के. शरण, 
‘शिकारा : द अनटोल्ड स्टोरी ऑफ कश्मीरी पंडित’
विधु विनोद चोपड़ा की आगामी फिल्म है. पिछले लंबे वक्त से सुर्खियों में बनी हुई यह फिल्म शुक्रवार, 7 फरवरी को रिलीज होने वाली है. लेकिन फिल्म के अदालती पचड़े में पड़ जाने के जाने की नौबत आ गई है.

फिल्म ‘शिकारा’ के खिलाफ जम्मू और कश्मीर उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर कर दिया गया है. याचिका में फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की मांग की गई है. याचिकाकर्ता इफ्तिखार मिसगर, माजिद हैदरी और इरफान हाफिज लोन ने आरोप लगाया है कि फिल्म कश्मीर और कश्मीरी पंडितों के बारे में गलत तथ्यों को दर्शाती है.

फिल्म में बताया गया है कि आतंकवादियों ने जब 30 वर्ष पूर्व कश्मीरी पंडितों के घर जलाने लगे, बहू-बेटियों की आबरू पर बन आए और उनको अपना घर-बार और यहां तक कि घाटी भी छोड़ने पर मजबूर कर दिया. तब न तो सूबे की सरकार और न केंद्र की सरकार उनकी मदद के लिए आगे आई. हां, जम्मू और देश के विभिन्न स्थानों पर उन्हें शरणार्थी बना कर रखने का इंतजाम जरूर कर दिया था. सभी राजनीतिक दल मूक दर्शक बन गए थे. अखबारों में भी उनकी ऐसी दर्दनाक और जुल्मोसितम वाली दास्तान कहीं एक कोने में सिसकती रह गई थी. 

यह फिल्म ‘शिकारा’ 1989 के अंत और 1990 की शुरुआत में कश्मीर घाटी से कश्मीरी पंडित पलायन की अत्यंत मार्मिक पृष्ठभूमि पर आधारित है. ‘शिकारा’ में आदिल खान और सादिया मुख्य भूमिका निभा रहे हैं. फिल्म की रिलीज डेट 7 फरवरी है. ऐसे में अब एक बड़ा सवाल सामने आ गया है कि क्या फिल्म अपनी तय तारीख पर रिलीज हो पाएगी या फिर कोई कानूनी पेंच फंस सकता है.

गौरतलब है कि हाल ही में फिल्म का एक नया टीजर सोशल मीडिया पर सामने आया है. इस टीजर को विधु विनोद चोपड़ा फिल्म्स के आधिकारिक पेज से ट्वीट किया गया है. पोस्ट के कैप्शन में लिखा है, ”1990 में 4,00,000 से अधिक कश्मीरी पंडितों को अपना घर छोड़ने के लिए मजबूर किया गया. 30 साल बाद आखिरकार उनकी कहानी बताई जाएगी.’

ज्ञातव्य है कि विधु विनोद चोपड़ा फिल्म ‘शिकारा’ से एक बार फिर बतौर निर्देशक वापसी कर रहे हैं. इससे पहले विधु ने साल 2007 में फिल्म एकलव्य का निर्देशन किया था. फिल्म में अमिताभ बच्चन, संजय दत्त, सैफ अली खान, विद्या बालन, राइमा सेन जैकी श्रॉफ और जिमी शेरगिल बतौर मुख्य किरदार नजर आए थे.

NO COMMENTS