मराठी फिल्मों में भोंगा, नाळ और पाणी ने जीते चार पुरस्कार

0
54
मराठी

नई दिल्ली : 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा आज, शुक्रवार को यहां की गई. इनमें ‘भोंगा’ को सर्वोत्तम मराठी फिल्म घोषित किया गया है. साथ ही आयुष्यमान खुराणा, तब्बू और राधिका आपटे की मुख्य भूमिका वाली हिंदी फिल्म ‘अंधाधुन’ को सर्वोत्तम हिंदी फिल्म के पुरस्कार के लिए चुना गया है.

पिछले साल की तरह इस वर्ष भी राष्ट्रीय पुरस्कारों में मराठी फिल्मों ने भी अपना श्रेष्ठ स्थान बनाने में सफलता पाई है. शिवाजी लोटन पाटिल के निर्देशन में निर्मित ‘भोंगा’ सर्वोत्तम मराठी फिल्म घोषित किया गया है. इसी दूसरी मराठी फिल्म ‘नाळ’ के बाल कलाकार श्रीनिवास पोफले ने सर्वोत्तम बाल कलाकार का पुरस्कार जीता है. ‘नाळ’ फिल्म के लिए सुधाकर रेड्डी यंकट्टी को सर्वोत्तम नवोदित निर्देशक का पुरस्कार मिला है. अभिनेता स्वानंद किरकिरे ने सर्वोत्तम सहायक अभिनेता (चुंबक) पुरस्कार अपने नाम किया है. साथ ही आदिनाथ कोठारे द्वारा निर्देशित मराठी फिल्म ‘पाणी’ पर्यावरण संवर्धन देने वाला सर्वोत्तम फिल्म के पुरस्कार से नवाजा गया है. इस तरह इन तीन फिल्मों ने अलग-अलग श्रेणी में चार पुरस्कार जीते हैं.

1. सर्वोत्तम मराठी फिल्म
भोंगा
निर्देशक : शिवाजी लोटन पाटिल

2. पर्यावरण संवर्धन करने वाला सर्वोत्तम फिल्म
पाणी
निर्देशक : आदिनाथ कोठारे

3. सर्वोत्तम सहायक अभिनेता- स्वानंद किरकिरे (चुंबक)

4. सर्वोत्तम डेब्यू निर्देशक – सुधाकर रेड्डी (नाळ)

हिंदी फिल्मों में-

– हिंदी फिल्मों में ‘अंधाधुन’ सर्वोत्तम फिल्म पुरस्कार घोषित किया गया है. ‘अंधाधुन’ के अभिनेता आयुष्यमान खुराणा और ‘उरी- द सर्जिकल स्ट्राईक’ फिल्म की मुख्य भूमिका निभाने वाले विकी कौशल दोनों को सर्वोत्तम अभिनेता के पुरस्कार के लिए चुना गया है.

– ‘उरी- द सर्जिकल स्ट्राईक’ के लिए निर्देशक आदित्य धर को सर्वोत्तम निर्देशक का पुरस्कार दिया जाएगा.

– अक्षय कुमार की मुख्य भूमिका में बनी फिल्म ‘पैडमैन’ को सामाजिक विषय पर बनी सर्वोत्तम फिल्म घोषित किया गया है.

– इसके साथ ही फिल्म ‘बधाई हो’ को सर्वोत्तम लोकप्रिय फिल्म के पुरस्कार से नवाजा जाएगा.

NO COMMENTS