लोकसभा चुनाव 2019 : कन्हैया कुमार को तेजस्वी ने दिया झटका, महागठंधन से किया दूर

0
1317
महागठबंधन

सीमा सिन्हा,
पटना (बिहार) :
बिहार में महागठबंधन में आखिरकार सीटों के बंटवारे का मामला सुलझ गया है. लेकिन इसमें एक ओर जहां कांग्रेस को 12 की जगह 9 सीटों पर ही संतोष करना पड़ा है, वहीं सीपीआई के फायर ब्रांड उम्मीदवार कन्हैया कुमार को लेकर पेंच फंस गया है. उन्हें महागठबंधन में शामिल नहीं किया गया है. चर्चा है कि कन्हैया कुमार को महागठबंधन के नेता तेजस्वी यादव गठबंधन का हिस्सा बनाने से इंकार कर दिया है.

उम्मीद थी कि महागठबंधन में कन्हैया कुमार को शामिल कर बेगुसराय की सीट दे दी जाएगी और उनकी पार्टी सीपीआई (कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया) को इसमें जगह दी जाएगी, पर ऐन वक़्त पर ऐसा नहीं हो सका. जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और तेजस्वी के बीच हाल के कुछ महीनों में नजदीकियां देखी जा रही थीं और वे साथ में मंच साझा करते भी नजर आए थे.

तेजस्वी, कन्हैया के पक्ष में खुल कर बोलने लगे थे. उन्होंने पटना में मकर संक्राति के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में कन्हैया के लिए कहा था कि “जो भी भाजपा के खिलाफ बोलता है, उस पर मुकदमा होता है. हमारे लोगों के साथ ऐसा ही हो रहा है.”

महागठबंधन से कन्हैया कुमार को दूर रखने के संबंध में बिहार की राजनीति की समझ रखने वाले विश्लेषक इसकी तीन वजहें गिनाते हैं-

पहली वजह – बिहार में महागठबंधन का नेतृत्व तेजस्वी यादव कर रहे हैं और वो जाति का गणित लेकर चल रहे हैं. वे और उनके पिता राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद इस समीकरण पर किसी भी हाल में समझौता करने के पक्ष में नहीं हैं.

दूसरी वजह – यह हो सकती है कि कन्हैया कुमार की छवि सत्ता पक्ष ने “देशद्रोह” की बनाई है और उन पर इस तरह का मुक़दमा भी चलाया गया है. ऐसे में राष्ट्रवादी माहौल के ख़िलाफ़ पार्टी जाना नहीं चाहती है.

तीसरी वजह – कन्हैया कुमार की छवि तेजस्वी से थोड़ी भारी हो गई है. इससे तेजस्वी के प्रभामंडल को नुक्सान पहुंचने की भी आशंका है. इस कारण राजद और स्वयं तेजस्वी कन्हैया को महागठबंधन से दूर रखना चाहते हैं.

बंटवारे के अनुसार राष्ट्रीय जनता दल -20 सीटों पर, कांग्रेस -9, उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी -5, मुकेश सहनी की वीआईप (विकासशील इंसान पार्टी) -3 और पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी की हम (हिंदुस्तान आवाम मोर्चा) -3 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

NO COMMENTS