इमरान खान की मुश्किलें बढ़ीं, भ्रष्टाचार रोधी निकाय ने भेजा समन

0
78

खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के सरकारी हेलीकॉप्टरों के गलत इस्तेमाल का आरोप, 7 अगस्त को है पेशी

नई दिल्ली : पाकिस्तान के अखबार ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ के अनुसार आगामी 11 अगस्त को देश की सत्ता संभालने की तैयारी कर रहे इमरान खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. एक ओर प्रमुख विपक्षी दल उन्हें सत्ता संभालने रोकने पर आमादा हैं तो दूसरी ओर उन पर सरकारी हेलीकॉप्टरों के गलत इस्तेमाल का आरोप लगा है.

इस संबंध में देश के भ्रष्टाचार रोधी निकाय ने समन भेजा है. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इससे खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के खजाने को 21.7 लाख रुपए का नुकसान हुआ. खैबर पख्तूनख्वा में साल 2013 से इमरान खान की पार्टी की प्रांतीय सरकार है.

राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के 65 वर्षीय प्रमुख को 7 अगस्त को पेश होने के लिए समन भेजा है. इमरान को इससे पहले 18 जुलाई को समन भेजा गया था, लेकिन वह चुनाव के कारण ब्यूरो के समक्ष पेश नहीं हुए.

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की खबर के मुताबिक, एनएबी प्रांतीय सरकार के हेलीकॉप्टर का 72 घंटे तक इस्तेमाल करके प्रांतीय सरकार के राजकोष में 21.7 लाख रुपए का नुकसान पहुंचाने की जांच कर रहा है.

उनके वकील ने एक अपील दायर करते हुए एनएबी से मामले में आम चुनाव के बाद ‘‘अच्छा हो कि 7 अगस्त’’ की तारीख तय करने का अनुरोध किया था. खान की पार्टी 25 जुलाई को हुए चुनावों में सबसे बड़े दल के तौर पर उभरी है. 65 वर्षीय इमरान खान के 11 अगस्त को शपथ लेने की संभावना है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY