फिर मिला पावस अधिवेशन पूर्व महाराष्ट्र मंत्रिमंडल के विस्तार का संकेत

0
221

राज्य के वित्त मंत्री मुनगंटीवार ने जगाई विधायकों में आस, फिर भी है संभ्रम की स्थिति

नागपुर : महाराष्ट्र विधानमंडल का अधिवेशन आगामी 4 जुलाई से नागपुर में आरम्भ होने वाला है. इस बीच बहुप्रतिक्षित मंत्रिमंडल विस्तार होने की संभावना है. इस आशय का संकेत यहां राज्य के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने दिया है. हालांकि इस बात को लेकर फिलहाल संभ्रम की स्थिति ही नजर आ रही है. इस संकेत से फिर कुछ विधायकों में मंत्री बनने की आशा जगेगी.

हर बार होती आई है विस्तार की चर्चा
पिछले डेढ़ वर्ष से प्रत्येक अधिवेशन से पूर्व मंत्रिमंडल विस्तार होने की चर्चा हालांकि हर बार होती आई है. यह चर्चा हर बार एनडीए के घटक भाजपा और शिवसेना दोनों पक्षों के विधायकों में उत्सुकता और उत्साह बढ़ा देती है. यह अनुमान लगाना शुरू हो जाता है कि मंत्रिमंडल में कौन-कौन नए चेहरों को मौका मिलेगा. मंत्री पद के संभावित उम्मीदवारों को बधाइयां भी मिलनी शुरू हो जाती हैं, लेकिन अधिवेशन शुरू हो जाता है, खत्म भी हो जाता है, मंत्रिमंडल में कोई नया चेहरा नजर नहीं आता.

लंबित है विस्तार
इस बार फिर वित्त मंत्री मुनगंटीवार द्वारा दिए गए संकेत के आधार विधायकों में उत्सुकता और उत्साह का माहौल बनाने वाला है, लेकिन पिछली बार की चर्चा में मंत्री बनाने की पूर्व बधाइयां पा चुके एक भाजपा विधायक ने इस खबर पर कोई प्रतिक्रया देने बचते हुए निराशा जताई. उन्होंने कहा कि उन्हें इसकी कोई संभावना नजर नहीं आती. हालांकि उन्होंने माना कि राज्य मंत्रिमंडल का विस्तार लंबित है.

मंत्रिमंडल विस्तार : बात गले नहीं उतरती
उन्होंने अपना नाम जाहिर न करने का आग्रह करते हुए कहा कि फिलहाल सरकार के समक्ष न तो कोई ऐसा राजनीतिक दवाब है और न ही कोई मजबूरी है. सरकार में शामिल शिवसेना की ओर से भी ऐसा कोई दवाब नहीं है. शिवसेना तो किनारा करने के मूड में है और भाजपा भी यही प्रदर्शित कर रही है कि उसे भी अब आगे के चुनावों में अकेले ही चलना है. इधर पिछले दिनों मुंबई में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और सेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के बीच हुई मुलाक़ात के बाद भी ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है कि सरकार को मंत्रिमंडल विस्तार करनी पड़े. उन्होंने कहा कि ऐसे में पावस अधिवेशन के पूर्व मुख्यमंत्री अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे ही, यह बात गले नहीं उतरती.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY