परमबीर सिंह के चहेते 7 पुलिस अफसरों को तबादले की सजा

0
1091
परमबीर सिंह
मुंबई के एंटी टेररिज्म स्क्वाड के इन्स्पेक्टर दया पवार, जिनका तबादला गोंदिया हुआ है. 

एनकाउंटर स्पेसलिस्ट दया पवार को एंटी टेररिज्म स्क्वाड से हटा कर गोदिया भेजा

मुंबई : मुंबई शहर और ठाणे के सात पुलिस अधिकारियों का तबादला अन्य सुदूर जिलों में कर दिया गया है. इनमें एनकाउंटर स्पेसलिस्ट दया नायक भी शामिल हैं, जिनका तबादला गोंदिया किया गया है. पुलिस महकमें में इसे इनकी ‘पनिशमेंट पोस्टिंग’ बताई जा रही है. ये सभी पुलिस अधिकारी विभिन्न अपराधों की जांच कौशल में सबसे माहिर बताए जाते हैं. अब इन सातों पुलिस अधिकारियों का अगला ठिकाना गोंदिया, गढ़चिरोली, नांदेड़, जालना, दौंड, नंदुरबार, जलगांव और औरंगाबाद जिले होंगे.

परमबीर सिंह
केदारी पवार, सुधीर दलवी, नितिन ठाकरे, नीचे- सचिन कदम, राजकुमार कोथमीरे और नंदकुमार गोपाले. 

हालांकि राज्य पुलिस मुख्यालय के अधिकारियों द्वारा उनकी नई पोस्टिंग को रूटीन प्रशासनिक तबादला बताया जा रहा है, लेकिन जानकार सूत्र इन तबादलों को उनका ‘पनिशमेंट पोस्टिंग’ बता रहे हैं. यह पनिशमेंट उन्हें मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के चहेते होने के कारण दिया जा रहा है. ज्ञातव्य है कि परमबीर सिंह पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख को लेकर सरकार की आंखों की किरकिरी बन चुके हैं.

इन्स्पेक्टर दया नायक को एंटी टेररिज्म स्क्वाड से हटा कर गोंदिया भेजा जा रहा है. वे उस एटीएस टीम में भी शामिल थे, जो इंटालिआ बम भयादोहन मामले की जांच कर रही है. इसी तरह ठाणे क्राइम ब्रांच के वरिष्ठ इन्स्पेक्टर नितिन ठाकरे को नंदुरबार रवाना किया जा रहा.है. एंटी एक्सटॉर्शन सेल के वरिष्ठ इन्स्पेक्टर कोथमीरे को गढ़चिरोली भेजा जा रहा है. गोरेगांव पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर सुधीर दलवी का तबादला दौंड कर दिया गया है. मुंबई क्राइम ब्रांच के ही एक और इन्स्पेक्टर सचिन कदम अब औरंगाबाद में कहीं नजर आएंगे. सीबी के ही केदारी पवार को भी मुंबई क्राइम ब्रांच से जलगांव भेजा जा रहा है और आईपीएल में सट्टेबाजी की जांच में लगे इन्स्पेक्टर नंदकुमार गोपाले अब जालना जिले में दिखाई देंगे.

सूत्रों ने बताया कि इनके अलावा अभी और भी कई पुलिस अधिकारी रडार पर हैं, जो परमबीर सिंह के निकट माने जाते हैं. हाल ही में एक बुकी सोनू जालान ने परमबीर सिंह के साथ कोथमीरे के अलावा एनकाउंटर स्पेस्लिस्ट प्रदीप शर्मा का नाम भी फेक सट्टेबाजी मामले में उससे दोहन मामले में लिया था.

NO COMMENTS