चौथी भी बेटी हुई तो कर दी पत्नी की हत्या

0
65

शव अस्पताल के बाहर छोड़ ससुराल वाले फरार, बिहार के जमुई जिले की घटना

सीमा सिन्हा
पटना :
बिहार के जमुई जिले के सदर थाना क्षेत्र के महिसौड़ी मोहल्ले में एक जघन्य वारदात को अंजाम देते हुए ससुराल पक्ष के लोगों ने एक विवाहिता को चौथी बार भी बेटी जनी तो मौत के घाट उतार दिया. गला दबा कर हत्या करने के बाद ससुराल वाले घर से फरार हो गए हैं. मृतका के पिता ने जमुई थाने में शिकायत दर्ज कराई है कि बेटी जनने पर ससुराल पक्ष के लोगों ने उसकी बेटी की गला दबा कर हत्या कर दी है.

नालंदा जिला के सिलाव थाना क्षेत्र के करियौना गांव निवासी मो. सगीर ने जमुई पुलिस को बताया कि आठ वर्ष पूर्व उन्होंने बेटी शकीला का निकाह जमुई जिले के महिसौड़ी मुहल्ला निवासी मो. जैनुल के साथ कराई थी. शादी के एक वर्ष बाद शकीला ने एक बेटी को जन्म दिया. इसको लेकर ससुराल पक्ष के लोग नाराज हो गए और अक्सर उसके साथ मारपीट करने लगे. ससुराल पक्ष के प्रताड़ना को देख कर उन्होंने इसकी सूचना स्थानीय थाने में भी दी थी. लेकिन, इसके बावजूद ससुराल के लोगों का उनकी बेटी पर अत्याचार नहीं थमा. समय बीतता गया और मेरी बेटी चार बेटी की मां बन गई और ससुराल वालों का मेरी बेटी को प्रताड़ित करने का सिलसिला बढ़ता रहा.

उन्होंने बताया कि चार बेटी जनने के बाद शकीला के ससुराल पक्ष के लोग धमकी देते हुए कहने लगे कि अब तुम को भगा कर अपने बेटा की दूसरी शादी कर देंगे. समझाने के बावजूद वे लोग कुछ मानने को तैयार नहीं थे. उन्होंने बताया कि आज सुबह ससुराल पक्ष के लोगों ने मुझे फोन पर सूचना दी कि शकीला बीमार है. इसको लेकर हम लोग सदर अस्पताल में इलाज कराने जा रहे हैं. तभी आनन-फानन में वे लोग जमुई सदर अस्पताल आए तो यहां का माहौल कुछ और था. मो. सगीर की बेटी का शव वाहन पर पड़ा था और ससुराल पक्ष के सभी लोग फरार थे. घटना को लेकर मृतका के पिता ने शकीला के पति, सास, देवर सहित छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY