चरणों में अनलॉक किया जाएगा महाराष्ट्र में लॉकडाउन

0
1170
चरणों में

मॉनसून के पहले हर एक बच्चे का हो इन्फ्लूएंजा वैक्सीनेशन : सरकार से अपील

मुंबई : महाराष्ट्र में लगाए गए लॉकडाउन के कड़े प्रतिबंधों को चरणों में हटाए जाने पर विचार किया जा रहा है. राज्य में  कोरोना मरीजों की संख्या कम होने के कारण आम लोगों को राहत देने और कारोबार को दोबारा पटरी पर लाने के लिए ऐसा सोचा जा रहा है.  

हालांकि सरकार इस बात पर भी विशेष ध्यान देगी कि एक झटके में लॉकडाउन के इन नियमों को न हटाया जाए, बल्कि चरणों में इन्हें कम किया जाए.

मॉनसून के पहले हर एक बच्चे का इन्फ्लूएंजा वैक्सीनेशन  
दूसरी ओर महाराष्ट्र की कोविड टास्कफोर्स और पिडिआट्रिक टास्कफोर्स ने सरकार से अपील की है कि मॉनसून के पहले हर एक बच्चे का इन्फ्लूएंजा वैक्सीनेशन हो. बैठक में, दोनों टास्कफोर्स के डॉक्टरों ने सीएम उद्धव ठाकरे से कहा कि इन्फ्लूएंजा के टीके लगाने से कोरोना वायरस बीमारी के मामलों में अंकुश लगाने, अस्पतालों में भीड़भाड़ कम करने और अनावश्यक जांचों को रोकने में मदद मिलेगी.

चार चरणों में प्रतिबंधों को हटाने की होगी शुरुआत
सूत्रों के मुताबिक ठाकरे सरकार 1 जून से लॉकडाउन के कुछ प्रतिबंधों को चार चरणों में हटाने की शुरुआत कर सकती है. पहले और दूसरे चरण में दुकानों को खोलने की इजाजत दी जा सकती है. राज्य में बीते कुछ दिनों से दुकानें बंद होने की वजह से व्यापारियों को काफी ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा है. उम्मीद जताई जा रही है कि अगले महीने सरकार दुकानों को खोलने फैसला ले सकती है.

तीसरे चरण में महाराष्ट्र सरकार होटल, रेस्टोरेंट, बार और शराब बिक्री की दुकानों को कारोबार शुरू करने की मंजूरी दे सकती है. वहीं चौथे चरण में लोकल सेवा और धार्मिक स्थलों को खोलने की भी मंजूरी मिल सकती है. इसके अलावा जिन जिलों में लॉकडाउन या कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं, वहां पर हालात को देखकर फैसला लेने का निर्णय होगा.

देश में भी कोरोना मरीजों की संख्या में गिरावट
देश में कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से गिरावट देखने को मिल रही है. लगातार तीसरे दिन कोरोना पॉजिटिव मरीजों के आंकड़ों में कमी दर्ज की गई है. रविवार को 2 लाख 22 हज़ार 315 नए कोरोना मरीजों का आंकड़ा सामने आया है. जबकि 4 हज़ार 454 मरीजों की मौत हुई है.

NO COMMENTS